Monday, April 19, 2010

सेबी का सराहनीय कदम

सिक्युरिटीज़ एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया यानि की सेबी ने एक बहुत ही सराहनीय कदम उठाते हुए १ मई २०१० से आईपीओ के बाद लिस्टिंग के लिए दिनों की संख्या को २२ से घटा के १२ दिन कर दीया है इससे निवेशको के ८ बिलियन यानि करीब ८०० करोड़ रुपयों की बचत होगी।
यह बचत ब्याज के रूप में हो रहे निवशको के नुकसान के आधार पर तय की गयी है, साथ ही साथ जल्दी लिस्टिंग से निवेशको दुसरे अवसर भुनाने का भी लाभ मिलेगा|
कई उन्नत देशो में आईपीओ बंद होने और लिस्टिंग के बिच की अवधि मात्र ३ दिन है। देश की प्रमुख रेटिंग कम्पनी क्रिसिल के अनुसार २०१० में लगभग ४०००० करोड़ रुपये आईपीओ के द्वारा जुटाए जायेंगे।

5 comments:

  1. सच में सराहनीय कदम.

    हिन्दी ब्लॉगजगत के स्नेही परिवार में इस नये ब्लॉग का और आपका मैं ई-गुरु राजीव हार्दिक स्वागत करता हूँ.

    मेरी इच्छा है कि आपका यह ब्लॉग सफलता की नई-नई ऊँचाइयों को छुए. यह ब्लॉग प्रेरणादायी और लोकप्रिय बने.

    यदि कोई सहायता चाहिए तो खुलकर पूछें यहाँ सभी आपकी सहायता के लिए तैयार हैं.

    शुभकामनाएं !


    "टेक टब" - ( आओ सीखें ब्लॉग बनाना, सजाना और ब्लॉग से कमाना )

    ReplyDelete
  2. आपका लेख पढ़कर हम और अन्य ब्लॉगर्स बार-बार तारीफ़ करना चाहेंगे पर ये वर्ड वेरिफिकेशन (Word Verification) बीच में दीवार बन जाता है.
    आप यदि इसे कृपा करके हटा दें, तो हमारे लिए आपकी तारीफ़ करना आसान हो जायेगा.
    इसके लिए आप अपने ब्लॉग के डैशबोर्ड (dashboard) में जाएँ, फ़िर settings, फ़िर comments, फ़िर { Show word verification for comments? } नीचे से तीसरा प्रश्न है ,
    उसमें 'yes' पर tick है, उसे आप 'no' कर दें और नीचे का लाल बटन 'save settings' क्लिक कर दें. बस काम हो गया.
    आप भी न, एकदम्मे स्मार्ट हो.
    और भी खेल-तमाशे सीखें सिर्फ़ "टेक टब" (Tek Tub) पर.
    यदि फ़िर भी कोई समस्या हो तो यह लेख देखें -


    वर्ड वेरिफिकेशन क्या है और कैसे हटायें ?

    ReplyDelete
  3. are vaah dhandha......lo kar lo baat...hamara to mandaa chal rahaa hai ji.....

    ReplyDelete
  4. इस नए चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  5. कली बेंच देगें चमन बेंच देगें,

    धरा बेंच देगें गगन बेंच देगें,

    कलम के पुजारी अगर सो गये तो

    ये धन के पुजारी वतन बेंच देगें।

    हिंदी चिट्ठाकारी की सरस और रहस्यमई दुनिया में राज-समाज और जन की आवाज "जनोक्ति "आपके इस सुन्दर चिट्ठे का स्वागत करता है . . चिट्ठे की सार्थकता को बनाये रखें . नीचे लिंक दिए गये हैं . http://www.janokti.com/ , साथ हीं जनोक्ति द्वारा संचालित एग्रीगेटर " ब्लॉग समाचार " http://janokti.feedcluster.com/ से भी अपने ब्लॉग को अवश्य जोड़ें .

    ReplyDelete